करंट टॉपिक्स

स्व. हस्तीमल हिरण की स्मृति में श्रद्धांजलि सभा का हुआ आयोजन

जयपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के आमंत्रित सदस्य वरिष्ठ प्रचारक दिवंगत हस्तीमल हिरण जी की स्मृति में बुधवार को शहर में श्रद्धांजलि...

जीवन के बाद कर्मयोगी हस्तीमल जी की देह भी राष्ट्र को समर्पित

उदयपुर. ‘तन समर्पित मन समर्पित और यह जीवन समर्पित, चाहता हूं मातृ-भू तुझे कुछ और भी दूं...’ इन पंक्तियों के मर्म को चरितार्थ करते हुए...

प्रेरणा स्रोत हस्तीमल जी

हस्तीमल जी का जन्म राजसमंद जिले में चंद्रभागा नदी के दक्षिण तट पर आमेट कस्बे में हुआ था. वे मेधावी छात्र थे. 1964 में आमेट...

दुःखद – वरिष्ठ प्रचारक प्रभाकर राव आंबुलकर नहीं रहे; सरसंघचालक व सरकार्यवाह जी ने दी श्रद्धांजलि

राष्ट्रीय स्वयंसेवक के ज्येष्ठ प्रचारक प्रभाकरराव आंबुलकर का आज सुबह 4 जनवरी, 2023 को खापरी स्थित विवेकानंद अस्पताल में 84 वर्ष की आयु में अल्प...

हम अखंड भारत के पुजारी – निम्बाराम

जयपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राजस्थान क्षेत्र प्रचारक निम्बाराम ने जयपुर में आयोजित पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में कहा कि किसी कवि ने तब लिखा था –...

“गोवा मुक्ति आंदोलन के बलिदानी उज्जैन के राजाभाऊ महाकाल”

एक कहावत आज भी है कि “जिसने गोवा देख लिया, उसे लिस्बन (पुर्तगाल की वर्तमान राजधानी) देखने की आवश्यकता नहीं है. भारत को 1947 में...

जीवन मूल्यों की शिक्षा सर्वाधिक महत्वपूर्ण

भीलवाड़ा. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भीलवाड़ा महानगर द्वारा बुधवार नगर परिषद के महाराणा प्रताप सभागार में आयोजित प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन में विभिन्न ज्वलंत ओर प्रासंगिक मुद्दों...

संघ विचार से परिचित कराती पुस्तक ‘संघ दर्शन : अपने मन की अनुभूति’

डॉ. मयंक चतुर्वेदी लेखक लोकेन्‍द्र सिंह की पुस्‍तक ‘संघ दर्शन : अपने मन की अनुभूति’ को आप राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ को समझने का एक आवश्‍यक...

विवेकानंद शिला स्मारक के शिल्पी – एकनाथ रानाडे

एकनाथ रानाडे जी का जन्म 19 नवम्बर, 1914 को ग्राम टिलटिला (जिला अमरावती, महाराष्ट्र) में हुआ था. पढ़ने के लिए वे अपने बड़े भाई के...

सेवागाथा की कहानी – एक सच्चे कर्मवीर ‘अजीत जी’

मेघा प्रमोद 23 वर्ष की उम्र में इलैक्ट्रिकल एंड मैकेनिकल इंजीनियरिंग में गोल्ड मेडल वो भी 65 वर्ष पहले. यह कहा जा सकता है कि...