You Are Here: Home » Posts tagged "संघ प्रचारक"

    दुःखद – वरिष्ठ प्रचारक श्रीकृष्ण जी मोतलग का निधन

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ज्येष्ठ प्रचारक श्री श्रीकृष्ण जी मोतलग का वृद्धावस्था के कारण दिनांक 02 अगस्त, 2020 के रात्रि 08.42 बजे नागपुर में देहांत हुआ. वे 86 वर्ष के थे. बी.ई की पढ़ाई पूरी करने के पश्चात् 1962 से वे संघ के प्रचारक बने. प्रारम्भ में असम में प्रचारक रहने के बाद वे नागपुर प्रांत प्रचारक रहे. बंगाल प्रांत प्रचारक, पूर्वोत्तर क्षेत्र के प्रचारक रहने के पश्चात उन्होंने अखिल भारतीय सह प्रचारक प् ...

    Read more

    राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कर्मयोगी प्रचारक हस्तीमल

    तेरा वैभव अमर रहे मां, हम दिन चार रहें न रहें, का ध्येय व्रत लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक हस्तीमल के 75 वर्ष पूर्ण करके 76वें वर्ष में प्रवेश करने पर अभिनंदन. त्याग, तपस्या और राष्ट्र सेवा के लिए समर्पित संघ के माध्यम से कर्मयोगी जीवन निर्वाह करने वाले हस्तीमल जी के प्रचारक के रूप में भी 56 वर्ष पूरे हो रहे हैं. हिन्दू पंचांग के अनुसार उनका जन्म श्रावण शुक्ल चतुर्थी, संवत 2002 (1945) को हुआ ...

    Read more

    स्थापना दिवस – भारतीय मजदूर संघ शून्य से शिखर की ओर

    धर्मदास शुक्ला भारतीय मजदूर संघ की स्थापना से पूर्व देश में कई श्रम संगठन कार्यरत थे, जो किसी न किसी राजनीतिक विचारधारा एवं पाश्चात संस्कृति से ओत-प्रोत थे. देश में ट्रेड यूनियनों का प्रचलन 1889 से आया, जब एमए लोंखडे ने बाम्बे मिल एसोशिएसन की शुरूआत की. उनके बाद एनएस जोशी ने 1890 में मद्रास लेबर एसोशिएशन की शुरूआत की. 1891 में बंगाल में एमएन राय ने जूट मिल एसोसिएशन की. एमएन राय ने मार्क्सवाद-लेनिनवाद का लबा ...

    Read more

    चीनी सीमा चीन की दीवार तक, शेष सब कब्जा है – इन्द्रेश कुमार

    शिमला (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा कि चीन की नीति हमेशा से विस्तारवाद की रही है. चीनी दीवार ही चीनी सीमा है, बाकि सब कब्जा है. यह बात आम लोगों को बताने की आवश्यकता है. चीन ने तिब्बत को हड़प लिया. आज दलाईलामा निर्वासित जीवनयापन कर रहे हैं. चीन ने शक्तिशाली होते ही यूनान पर कब्जा जमाना शुरू किया, मंगोलिया, तुर्कीस्तान के झिंगयान, नेपाल और पाकिस्तान मे ...

    Read more

    रेखा – संघ के बगीचे में विकसित हुआ पौधा

    रमेश पतंगे यमगर वाड़ी २८ जून को रेखा और बालाजी का विवाह संपन्न हुआ. एक कन्या का विवाह होना, इसमें क्या विशेषता है? लाखों विवाह हर साल होते हैं, उनमें से ही ये एक विवाह था. ऐसे प्रत्येक विवाह की कोई सार्वजनिक सराहना नहीं होती, वो तो बस एक पारिवारिक कार्यक्रम होता है. रेखा का विवाह दिखने में भले सामान्य विवाह लगता हो. परंतु वह ऐसा नहीं है. कोरोना महामारी के संकट काल में यह विवाह यमगर वाड़ी में संपन्न हुआ. इस व ...

    Read more

    सादगी, समर्पण, समरसता और सरलता के प्रतीक पी. परमेश्वरन जी का पुण्यस्मरण

    नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल ने कहा कि एक हजार वर्ष का इतिहास पराधीनता और आत्मरक्षा का इतिहास रहा है. जब कभी विश्व का इतिहास सदाशयता से लिखा जाएगा तो नृशंस और बर्बर शक्तियों के सामने जो दृढ़ता के साथ टिका और आत्मरक्षा के साथ जिसने अपने धर्म और संस्कृति की रक्षा की, उस हिन्दू समाज की सदैव चर्चा होगी. आज जो विकृतियाँ हैं वो प्राणों की रक्षा के लिए संकुचित होने के कारण, सा ...

    Read more

    सिंध हमारा है, यह भावना हर भारतीय के मन में होनी चाहिये – डॉ. मोहन भागवत

    मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा कि विभाजन के पश्चात सिंध पाकिस्तान में चला गया. परंतु, सिंध हमारा है, यह भावना केवल सिंधी समाज ही नहीं, वरन् प्रत्येक भारतीय, हिन्दू व्यक्ति के मन में रहनी चाहिये. और आने वाली पीढ़ी तक पहुंचनी चाहिये. सब एक साथ जुट जाएं तो गत वैभव फिर से प्राप्त कर सकते हैं. यह हमें इज़राइल ने दिखाया है. सिंध में एक दिन अवश्य सिंधी हिन्दू होगा. सिंध ...

    Read more

    वैचारिक योद्धा स्व. परमेश्वरन जी का ध्येय समर्पित जीवन हम सब के लिए प्रेरणादायी है

    वैचारिक योद्धा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और भारतीय विचार केंद्र के संस्थापक व निदेशक पी. परमेश्वरन जी का 91 साल की आयु में केरल के पलक्कड़ जिले के ओट्टापलम में 08 फरवरी रात्रि को देहावसान हो गया. परमेश्वरन जी अद्भुत व्यक्तित्व के धनी थे, उनका जीवन ध्येय समर्पित, साधनारत और सादगीपूर्ण था. सन् 1927 में केरल के अलप्पुझा जिले के मुहम्मा में जन्मे परमेश्वरन जी स्कूल में पढ़ाई के दौरान राष्ट्रीय ...

    Read more

    हिन्दुत्व को किसी वाद या इज्म के साथ जोड़ने की आवश्यकता नहीं, यह उससे कहीं बढ़कर है

    दिल्ली में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेला में "शब्द उत्सव -2020" का आयोजन किया गया. विभिन्न विषयों पर विमर्श के द्वार खोलने वाला शब्द उत्सव स्वयं में एक अनूठा आयोजन है. पुस्तक मेले के प्रथम दिन एक सत्र में जहां एक तरफ प्रख्यात विचारक एवं प्रज्ञा प्रवाह के राष्ट्रीय संयोजक जे. नंदकुमार जी से हिन्दू-दर्शन, संस्कृति और राजनीति पर भारतीय जनसंचार संस्थान के पूर्व महानिदेशक के. जी. सुरेश ने उनकी पुस्तक 'हिन्दु ...

    Read more

    भारत तिब्बत सहयोग मंच चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के लिए चलाएगा संपर्क अभियान

    जयपुर. भारत तिब्बत सहयोग मंच एक मार्च तक देशभर में एक लाख नए कार्यकर्ता जोड़ेगा. मंच के समस्त कार्यकर्ता तिब्बत और कैलाश मानसरोवर की मुक्ति के लिए घर-घर संपर्क करके, रैलियों और गोष्ठियों के माध्यम से जनांदोलन चलाएंगे. मंच की जयपुर में आयोजित चिंतन बैठक में निर्णय लिया गया कि तिब्बत और कैलाश मानसरोवर की चीन से मुक्ति के लिए सबसे पहले चीन की आर्थिक कमर तोड़ना जरूरी है, इसके लिए चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के संद ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top