You Are Here: Home » Posts tagged "संघ" (Page 27)

    संघ-शाखाओं में मनाया गया स्वतंत्रता दिवस (26 जनवरी 1930)

    डॉक्टर हेडगेवार, संघ और स्वतंत्रता संग्राम – 10 संघ संस्थापक डॉक्टर हेडगेवार तथा उनके अंतरंग सहयोगी अप्पाजी जोशी 1928 तक मध्य प्रांत कांग्रेस की प्रांतीय समिति के वरिष्ठ सदस्य के नाते सक्रिय रहे. कांग्रेस की इन बैठकों एवं कार्यक्रमों के आयोजन में डॉक्टर जी का पूरा साथ रहता था. सभी महत्वपूर्ण प्रस्ताव इन्हीं के द्वारा तैयार किए जाते थे. इसी समय अंग्रेज सरकार ने भारतीय फौज की कुछ टुकड़ियों को चीन में भेजने का ...

    Read more

    परम वैभवशाली राष्ट्र के लिए संघ की स्थापना

    डॉक्टर हेडगेवार, संघ और स्वतंत्रता संग्राम – 9 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, अनुशीलन समिति समेत कई क्रांतिकारी दलों, विभिन्न संस्थाओं, लगभग 30 छोटी बड़ी परिषदों/मंडलों, समाचार पत्रों, आंदोलनों, सत्याग्रहों और व्यायामशालाओं की गतिविधियों में सक्रिय भूमिका निभाने तथा एक वर्ष की सश्रम जेल यात्रा करने के पश्चात डॉक्टर हेडगेवार ने एक ऐतिहासिक शक्ति सम्पन्न और आत्मनिर्भर हिन्दू संगठन बनाने के निश्चय को व्यवहार में पर ...

    Read more

    सेवाकार्य सकारात्मक और निःस्वार्थ भाव से करें – भय्या जी जोशी

    नागपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ नागपुर महानगर के अजनी भाग में चल रहे सेवा कार्यों का प्रस्तुतीकरण कार्यक्रम “सेवा दर्शन” संपन्न हुआ. सेवा कार्य से जुड़े परिवार अर्थात् सेवादाता व लाभार्थी. सेवा कार्य में अपना समय देने वाले महानुभावों का अनुभव कथन और सत्कार, लाभार्थी का अनुभव कथन, तथा संस्कार वर्ग के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतीकरण हुआ. सेवा दर्शन कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार ...

    Read more

    पर्व मनाना यानि नई पीढ़ी को सांस्कृतिक धरोहर सौंपना

    लाहौल स्पिति (विसंकें). लाहौल स्पीति के तांदी (केलांग) में आयोजित चंद्रभागा संगम पर्व में मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र ठाकुर जी ने कहा कि इस पर्व का आयोजन लाहौल की संस्कृति को अपनी नई पीढ़ी तक पहुंचाने का सुंदर अवसर है. ऐसे आयोजनों के माध्यम से हम निश्चित रूप से आने वाली पीढ़ी को अपनी सांस्कृतिक धरोहर सौंप कर जाएंगे. नई पीढ़ी के लोग देश में दूर दराज के क्षेत्रों म ...

    Read more

    हम क्यों खोते जा रहे हैं अपने शब्दों को, ऐसे तो विलुप्त हो जाएंगे हमारे शब्द

    अपनी भाषा, बोली और अपने शब्दों का उपयोग न करने या उन्हें प्रचलन में न रखने पर वे मृत हो जाते हैं. ‘भाषा किसी भी व्यक्ति एवं समाज की पहचान का एक महत्वपूर्ण घटक तथा उसकी संस्कृति की सजीव संवाहिका होती है.’ आज विविध भारतीय भाषाओं व बोलियों के चलन तथा उपयोग में आ रही कमी, उनके शब्दों का विलोपन तथा विदेशी भाषाओं के शब्दों से प्रतिस्थापन एक गंभीर चुनौती बन कर उभर रही है. अनेक भाषाएं व बोलियां विलुप्त हो चुकी हैं ...

    Read more

    मानव, संपूर्ण सृष्टि का कल्याण, यही हिन्दुत्व का आधार है – डॉ. कृष्णगोपाल जी

    बरेली (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने हिन्दुत्व को समझाते हुए बताया कि "हिन्दुत्व"...इसका कोई खांचा नहीं है, इसकी कोई आउटलाइन बाउंड्री नहीं है, क्योंकि इसमें हर दिन कोई भी व्यक्ति एक नया विचार देता है. इसमें एक नया एडिशन कर देता है. इसलिए सनातन परंपरा का एक प्रवाह है. यह प्रवाह निरंतर चलता है, निरंतर नई-नई बातें जुड़ती हैं, नई-नई खोज होती और ये नई खोजों को प्रोत्साहि ...

    Read more

    प्रणब दा के साथ संघ विरोधियों को भी धन्यवाद

    अपने ही लोगों के तीव्र विरोध के बाद भी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में नागपुर आए, इसके लिए उनका विशेष अभिनंदन एवं धन्यवाद. वह डॉ. केशवराव बलिराम हेडगेवार के कक्ष में भी गए और वहां अपना भाव एकदम स्पष्ट शब्दों में लिखा. वह अत्यंत सहज-सरल थे. परिचय सत्र में जब संघचालक परिचय कराने वाले ही थे कि प्रणबदा ने कहा सब अपना-अपना परिचय देंगे और स्वयं खड़े होकर कहा, ‘मैं प्रणब मुखर ...

    Read more

    मानहानि मामले में राहुल के खिलाफ न्यायालय में आरोप तय

    मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता द्वारा भिवंडी कोर्ट में दायर मानहानि मामले में कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ आरोप तय कर दिये हैं. राहुल गांधी के खिलाफ आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत आरोप तय किए गए हैं. मामले में अगली सुनवाई 10 अगस्त को होगी. न्यायालय के निर्देश के बाद राहुल गांधी आज (12 जून, 2018) भिवंडी कोर्ट में पेश हुए थे. न्यायालय में आरोप तय होने के पश्चात राहु ...

    Read more

    मनुष्य, जीव और प्रकृति के मध्य संतुलन बनाने की आवश्यकता – डॉ. भगवती प्रकाश जी

    जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र संघचालक डॉ. भगवती प्रकाश जी ने कहा कि आज मनुष्य, जीव और प्रकृति के मध्य सामंजस्य बनाने की आवश्यकता है. हम जाने-अनजाने में पर्यावरण को बहुत नुकसान पहुचांते हैं, इसकी भरपाई के लिए हमें प्रयास करने होंगे. वे मंगलवार को विश्व संवाद केन्द्र की ओर से पर्यावरण और भारतीय चिंतन विषय पर आयोजित स्मारिका के विमोचन कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि प्राच ...

    Read more

    वैचारिक आदान – प्रदान का बेजा विरोध !

    नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रशिक्षण वर्ग के समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के नाते आने के लिए पूर्व राष्ट्रपति डॉ. प्रणब मुखर्जी ने अपनी स्वीकृति दी है. इससे देश के राजनीतिक गलियारों में हलचल है. डॉ. मुखर्जी एक अनुभवी और परिपक्व राजनेता हैं. संघ ने उनके व्यापक अनुभव और उनकी परिपक्वता को ध्यान में रखकर ही उन्हें स्वयंसेवकों के सम्मुख अपने विचार रखने के लिए आमंत्रित किया है. वहां वह भी संघ के विच ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top