करंट टॉपिक्स

‘सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय’ में निहित मानवाधिकार

सूर्यप्रकाश सेमवाल सर्वे भवन्तु सुखिनः के भारतीय सनातन विचार में “शन्नो अस्तु द्विपदे शन्नो अस्तु चतुष्पदे”  का व्यापक भाव विद्यमान है. बुद्धि, विवेक और चेतना...

बेनकाब होते वैश्विक संगठन

डॉ. नीलम महेंद्रा आज पूरा विश्व संकट के दौर से गुजर रहा है. कोरोना नामक महामारी से दुनिया भर के विकसित कहे जाने वाले देशों तक में...