You Are Here: Home » Posts tagged "सह सरकार्यवाह" (Page 5)

    पत्रकारिता एक मिशन है, पाञ्चजन्य और ऑर्गनाइजर इसके जीवंत उदाहरण – डॉ. कृष्णगोपाल जी

    नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा कि पत्रकारिता एक मिशन है. पाञ्चजन्य और ऑर्गनाइजर इसका जीवंत उदाहरण हैं. उन्होंने इंगित किया कि कैसे पाञ्चजन्य और ऑर्गनाइजर ने समकालीन भारत में इस मिशन को लेकर सच्चा संघर्ष किया है. इस बात की ओर ध्यान आकृष्ट करवाया कि कैसे सरकारी और राजकीय दबावों से लड़ते हुए भी इन दोनों पत्रिकाओं ने राष्ट्र निर्माण के लिए विमर्श को जागृत रखा. वे पाञ ...

    Read more

    धर्म राष्ट्र जीवन का आधार है और यही हमारी प्रेरणा है – डॉ. मनमोहन वैद्य जी

    जयपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने कहा कि धर्म राष्ट्र जीवन का आधार है. यह हमारी प्रेरणा है. धर्म हमें जोड़ना सिखाता है, सही दृष्टि प्रदान करता है. धर्म भारत की संस्कृति है, जो हमें समाज के साथ अपने रिश्ते का भान कराती है. सह सरकार्यवाह जी मंगलवार (27 मार्च) को जयपुर के होटल रॉयल हवेली में स्वदेशी जागरण मंच के उम्मीद फाउण्डेशन की ओर से कामकाजी जरूरतमंद महिलाओं क ...

    Read more

    एक जीता – जागता उदाहरण हजारों भाषणों से ज्यादा प्रेरणा देता है – सुरेश सोनी जी

    भोपाल (विसंकें). नदी - महोत्सव कार्यक्रम में मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने कहा कि इस पंचम नदी-महोत्सव के केंद्र बिंदु का विषय सहायक नदियाँ हैं. गाँव-गाँव में फैली जलधाराओं की एक दुनिया है और उसे समझने की आवश्यकता है. पश्चिमी और भारतीय चिंतन में अंतर समझाते हुए उन्होंने कहा कि हमें अपने मौलिक चिंतन को समझकर उसमें परिवर्तन करना होगा. पिछले 150 साल में विज्ञान ने बहुत सी ...

    Read more

    धर्म आधारित व्यापार हो, यही ग्राहक पंचायत का ध्येय – दत्तात्रेय होसबले जी

    भोपाल (विसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत संगठन का मूल उद्देश्‍य है - समाज में धर्म आधारित उद्योग/व्यापार की नींव खड़ी करना, ताकि किसी भी ग्राहक के साथ अन्‍याय न हो. जब मैं दूध का व्‍यापारी होता हूँ तो मुनाफे के लिए मुझे किसी भी सीमा तक छूट चाहिए, लेकिन वहीं जब मैं अन्य वस्‍तुओं की प्राप्‍ति के लिए एक ग्राहक की भूमिका में रहता हूँ तो सा ...

    Read more

    मानसिक व आध्यात्मिक शांति भारतीय चिंतन में ही संभव – सुरेश सोनी जी

    पटना (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने कहा कि आधुनिक तकनीक ने हमारे जीवन को सुविधापूर्ण बना दिया है, लेकिन यह ध्यान रखना जरूरी है कि मानव जीवन के लिए तकनीक ही सब कुछ नहीं है. वह तो एक साधन मात्र है. तकनीक हमें एक - दूसरे से संपर्क करा सकती है, लेकिन संबंध नहीं बना सकती. यही कारण है कि सोशल मीडिया पर हजारों लोगों से जुड़े रहने के बावजूद व्यक्ति अपने को अकेला महसूस करता है. स ...

    Read more

    डॉ. नित्यानंद हिमालयी शोध एवं अध्ययन केन्द्र’ का शिलान्यास

    देहरादून (विसंकें). स्व. डॉ. नित्यानंद जी प्रख्यात शिक्षाविद एवं समाजसेवी थे. उनका जन्म आगरा में हुआ था, पर उन्होंने उत्तराखंड को अपनी कर्मभूमि बनाया. नौ फरवरी, 2018 को उनकी जयंती पर देहरादून स्थित ‘दून विश्वविद्यालय’ में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी, विश्व हिन्दू परिषद के संगठन महामंत्री दिनेश चंद्र जी, राज्य के उच्च शिक्षा मंत्र ...

    Read more

    भारत का भविष्य सुरक्षित रखने वाले प्रज्ञावान विवेकशील विद्यार्थी तैयार करें शिक्षक – सुरेश सोनी जी

    नई दिल्ली (इंविसंकें). नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट के तत्वाधान में दिल्ली विश्वविद्यालय के श्री गुरु तेग बहादुर खालसा कॉलेज सभागार में मकर संक्रांति वार्षिक मिलनोत्सव का आयोजन किया गया. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने इस अवसर पर “वर्तमान परिदृश्य में शिक्षकों की भूमिका” विषय पर व्याख्यान दिया. उन्होंने कहा कि समय से ही सभी चीजें चलती हैं, इसलिए काल को मापने और उसकी गणना के आधार पर ...

    Read more

    वेद और विज्ञान को अलग करने वाली भ्रांतियों से निकलना होगा – सुरेश सोनी जी

    पुणे (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी जी ने कहा कि वेद और विज्ञान को अलग बताने वाली भ्रांतियों से हमें बाहर निकलना होगा तथा पुराने अंधविश्वास से निकलकर नए अंधविश्वास में जाने से बचना होगा. सह सरकार्यवाह जी विज्ञान भारती और डेक्कन कॉलेज अभिमत विश्वविद्यालय के तत्वाधान में पुणे के डेक्कन कॉलेज में आयोजित ‘तृतीय विश्व वेद विज्ञान सम्मेलन’ के उद्घाटन समारोह में संबोधित कर रहे थे. प ...

    Read more

    तर्कपूर्ण और योग्य विचारों को अपनाना ही स्वामी श्रद्धानंद को सच्ची श्रद्धांजलि – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

    नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि भारत वैदिक दर्शन का देश है, तर्कपूर्ण योग्य बातों को यहाँ का समाज मानता आया है. किन्तु कालांतर में बाहर के आक्रमणकारियों के आने के साथ कुछ रूढ़ियाँ, पाखण्ड और दोष इसमें जुड़ते गए. स्वामी श्रद्धानंद ने इन अनेक प्रकार की भ्रांतियों से समाज को निकालने का काम किया. वेदों के निर्माण में ऋषिकाओं/विदुशियों के योगदान को सामने लाकर स्वामी ...

    Read more

    भारत में राष्ट्र की अवधारणा विशिष्ट व अद्भुत है – डॉ. कृष्ण गोपाल जी

    भारत में राष्ट्र की भावना लोक मंगलकारी है यानि सभी प्राणियों के कल्याण की भावना पुणे (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि भारत के पूरे साहित्य में भारत का वर्णन है. इसमें वैश्विक भावना तो है, लेकिन यह विचार जहां से आया है उसके प्रति भक्ति भी है. वैश्विक होते हुए भी हम भारतीय हैं, यह अद्वितीय समन्वय है. वैदिक काल से लेकर देश की शिक्षा संस्कृति और उससे विकसित भारतीय ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top