You Are Here: Home » Posts tagged "सेविका समिति"

    स्वरांजलि – घोष नाद के साथ राष्ट्र आराधन

    गुजरात. राष्ट्र सेविका समिति की द्वितीय प्रमुख संचालित वं. सरस्वतीताई आप्टे जी के 25वें स्मृति वर्ष एवं 12 जनवरी, स्वामी विवेकानंद और जीजामाता जयंती के त्रिवेणी संगम के अवसर पर विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ यूनिट के प्रांगण में स्वरांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में विभावरीबेन दवे (महिला और बाल विकास मंत्री, गुजरात) उपस्थित रहीं, राष्ट्र सेविका समिति की प्रमुख स ...

    Read more

    तपस्या, समर्पण भक्ति आदि तत्वों को लेकर चलने वाला व्यक्ति जीवन को सक्षम बनाता है – डॉ. मोहन भागवत जी

    अंबाजोगाई. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि तपस्या, समर्पण, आत्मनिवेदन और भक्ति, इन तत्वों को लेकर चलने वाला व्यक्ति जीवन को सक्षम बनाता है. लोकसंग्रह करने वाले कार्यकर्ता जीवन का सही मार्ग दिखाकर स्वयं के अनुकरण व आचरण से समाज को मार्ग दिखाते हैं. आत्मीयता और अपनापन ही विश्व का सत्य है. संघ के वरिष्ठ स्वयंसेवक एवं अखिल भारतीय इतिहास संकलन समिति के महासचिव डॉ. शरद जी हेबालकर ...

    Read more

    नागरिकता संशोधन विधेयक का खुले दिल से स्वागत करें – राष्ट्र सेविका समिति

    नई दिल्ली. राष्ट्र सेविका समिति संसद द्वारा नागरिकता संशोधन विधेयक पारित किए जाने का हार्दिक स्वागत करती है. समिति मजबूत इरादे के साथ यह ऐतिहासिक कदम उठाने के लिए नरेंद्र मोदी सरकार का अभिनंदन करती है. समिति सभी धार्मिक समुदायों से विधेयक का खुले दिल से स्वागत करने की अपील करती है. यह कदम मुस्लिम बहुल बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान के पीड़ित अल्पसंख्यक शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए है, न कि किसी क ...

    Read more

    परिवार प्रबोधन वर्तमान समय की आवश्यकता है – डॉ. मोहन भागवत जी

    नासिक (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी नासिक प्रवास के दौरान गोले कॉलोनी स्थित राष्ट्र सेविका समिति के कार्यालय में सेविका समिति की बहनों से मिले. बहनों ने उत्साह के साथ सरसंघचालक जी का स्वागत किया. सरसंघचालक मोहन भागवत जी ने कहा कि मातृ शक्ति की प्रतिष्ठा कायम रखते हुए परिवार प्रबोधन वर्तमान समय की आवश्यकता है. जगत - जननी, प्रकृति, पुरुष, यह प्राकृतिक रचना है. हमारी संस्कृत ...

    Read more

    हर महिला में छिपी है एक महारानी लक्ष्मीबाई, आवश्यकता है उसे जगाने की – सुनीता भाटिया

    राष्ट्र सेविका समिति दिल्ली द्वारा मणिकर्णिका दौड़ का आयोजन नई दिल्ली. वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की जयंति के उपलक्ष्य में राष्ट्र सेविका समिति के तरूणी विभाग और शरण्या (समाज उत्थान संस्थान) ने संयुक्त रूप से "मणिकर्णिका - एक निरंतर दौड़ देश के लिए" का आयोजन किया. 05 किलीमीटर लंबी इस दौड़ में करीब 2,000 युवतियों और महिलाओं ने भाग लिया. दौड़ के उपरांत पांच प्रथम, 15 द्वितीय और 25 तृतीय पुरस्कार दिए गए. राष्ट्र ...

    Read more

    सभी पक्षों को निर्णय का सम्मान करना चाहिये – राष्ट्र सेविका समिति

    राष्ट्र सेविका समिति श्री रामजन्मभूमि वाद पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत करती है. भारत के आराध्य प्रभु श्रीरामचंद्र जी के जन्मस्थान पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का राष्ट्र सेविका समिति ह्रदय से स्वागत करती है और सभी माननीय न्यायाधीशों का अभिनंदन करती है. अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि वाद पर आज बहुत ही स्पष्ट और सटीक निर्णय आया है. इस निर्णय को किसी भी पक्ष की जय-पराजय की दृष्टि से न ...

    Read more

    बापट जी ने सिद्धान्तों को आचरण का हिस्सा बनाया – भय्याजी जोशी

    बिलासपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने कहा कि बापट जी सिद्धान्तों को जीवन का हिस्सा मानकर चलते थे. उन्होंने सिद्धान्तों को केवल शब्दों में नहीं रहने दिया, बल्कि उसका अपने जीवनपर्यन्त पालन किया. सरकार्यवाह पद्मश्री दामोदर गणेश बापट जी की श्रंद्धाजलि सभा में बोल रहे थे. श्रद्धांजलि सभा का आयोजन सोमवार को दयालबंद स्थित महाराजा रणजीत सिंह सभागार में भारतीय कुष्ठ निवारण संघ, कात्रे नगर च ...

    Read more

    महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत पहुंचा रहे सैकड़ों संघ कार्यकर्ता

    जनकल्याण समिति ने किया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सहायता का आह्वान पुणे (विसंकें). अप्रत्याशित बारिश और बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण महाराष्ट्र के 10 जिलों में बाढ़ की गंभीर स्थिति बनी थी. विकट स्थिति में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जनकल्याण समिति ने विभिन्न स्थानों पर राहत कार्य शुरू किया. जनकल्याण समिति के मार्गदर्शन में सैकड़ों कार्यकर्ता आपदा पीड़ितों की सहायता के लिये आगे आए. मुख्य रूप से सांगली, कोल ...

    Read more

    वे पन्द्रह दिन… / 14 अगस्त, 1947

    कलकत्ता.... गुरुवार. 14 अगस्त सुबह की ठण्डी हवा भले ही खुशनुमा और प्रसन्न करने वाली हो, परन्तु बेलियाघाट इलाके में ऐसा बिलकुल नहीं है. चारों तरफ फैले कीचड़ के कारण यहां निरंतर एक विशिष्ट प्रकार की बदबू वातावरण में भरी पड़ी है. गांधी जी प्रातःभ्रमण के लिए बाहर निकले हैं. बिलकुल पड़ोस में ही उन्हें टूटी-फूटी और जली हुई अवस्था में कुछ मकान दिखाई देते हैं. साथ चल रहे कार्यकर्ता उन्हें बताते हैं कि परसों हुए दंगों ...

    Read more

    सुषमा जी को सेविका समिति ने श्रद्धांजलि अर्पित की

    राष्ट्र सेविका समिति की प्रमुख संचालिका शांतक्का जी ने कहा कि स्वर्गीय सुषमा स्वराज जी विश्वबंधुत्व का मूर्तिमंत रूप थीं. एकात्म मानवदर्शन को अपने आचरण में अपनाया था. समिति प्रमुख पूर्व विदेश मंत्री स्व. सुषमा जी को श्रद्धांजलि अर्पित कर रही थीं. नागपुर स्थित समिति के केंद्र कार्यालय, देवी अहिल्या मंदिर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया था. उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण को अपेक्षित प्रिय भक्त के सभी ग ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top