करंट टॉपिक्स

सेकुलर ‘कारवां’ के झूठ का पुलिंदा तार-तार – 2

रतन शारदा असहिष्णु और धर्म विरोधी बातें प्रकाशित करने के लिए बदनाम सेकुलर पत्रिका ‘कारवां’ ने 1 जुलाई 2023 को एक ऐसा लेख प्रकाशित किया...

डॉक्टर हेडगेवार जी का हिन्दुत्व..!

प्रशांत पोळ किसी व्यक्ति के कार्य का मूल्यांकन करना है, या उस व्यक्ति ने किये हुए कार्य का यश - अपयश देखना है, तो उस...

26 जनवरी – पूर्ण स्वराज्य/गणतंत्र दिवस और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भाग दो

डॉ. श्रीरंग गोडबोले अनेक वर्षों तक अंग्रेजों से दलील, दया-याचिका देने और डोमेनियन स्टेटस  के विचार को स्वीकार करने के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने...

26 जनवरी – पूर्ण स्वराज्य/गणतंत्र दिवस और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

डॉ. श्रीरंग गोडबोले भारत में 26 जनवरी को प्रतिवर्ष 'गणतंत्र दिवस' के रूप में मनाया जाता है. कम लोग इस तथ्य को जानते हैं कि...

हैदराबाद नि:शस्त्र प्रतिरोध – तमाम बंदिशों के बावजूद शुरू हुआ निजाम के विरुद्ध जनप्रतिरोध

डॉ. श्रीरंग गोडबोले हैदराबाद राज्य के 88 प्रतिशत हिन्दुओं पर निजाम और उनकी खाकसार पार्टी का दमन आरंभ हो चुका था. उस दमन चक्र में...

हैदराबाद मुक्ति संग्राम : हैदराबाद नि:शस्त्र प्रतिरोध – निजाम रियासत का स्वरूप

डॉ. श्रीरंग गोडबोले आज जब देश स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मना रहा है तो हमारे लिए यह जानना आवश्यक है कि देश के सभी हिस्से...

वे पंद्रह दिन… / 10 अगस्त, 1947

https://www.youtube.com/watch?v=GSZ6k6hvLfc स्वाधीनता का अमृत महोत्सव दस अगस्त.... रविवार की एक अलसाई हुई सुबह. सरदार वल्लभभाई पटेल के बंगले अर्थात 01, औरंगजेब रोड पर काफी हलचल...

वे पन्द्रह दिन… / 09 अगस्त, 1947

https://www.youtube.com/watch?v=RemOQ88tZk8 स्वाधीनता का अमृत महोत्सव सोडेपुर आश्रम... कलकत्ता के उत्तर में स्थित यह आश्रम वैसे तो शहर के बाहर ही है. यानी कलकत्ता से लगभग...

अमृत महोत्सव लेखमाला – सशस्त्र क्रांति के स्वर्णिम पृष्ठ : भाग एक

दे दी हमें आजादी बिना खड़ग बिना ढाल..? लाखों बलिदानी क्रांतिकारियों का क्रूर अपमान 1857 का स्वातंत्र्य संग्राम नामक विश्व प्रसिद्ध पुस्तक के लेखक और अंडमान...

प्राचीन काल से शिक्षा का केंद्र रहा है भोपाल – रमेश शर्मा

भोपाल विलीनीकरण दिवस के अवसर पर विश्व संवाद केंद्र, जागरूक नागरिक मंच द्वारा विशेष व्याख्यान का आयोजन भोपाल. भारत में योजनापूर्वक ढंग से सांस्कृतिक, साहित्यिक...