करंट टॉपिक्स

रॉकेट्री – फिल्म समीक्षा : जो कहा गया, उसे ध्यान से सुनना है और जो नहीं कहा गया, उसे ध्यान से समझना है

डॉ. जयप्रकाश सिंह फिल्म रॉकेट्री में नम्बी नारायणन अपने साथ फ्रांस जा रहे भारतीय वैज्ञानिकों को वहां पर काम करने का एक टिप देते हैं...

भारतीय चिंतन आत्मकेंद्रित नहीं, बल्कि सर्वकल्याण का है – भय्याजी जोशी

जयपुर, 15 जुलाई. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य भय्याजी जोशी ने कहा कि भारतीय चिंतन कभी आत्मकेंद्रित नहीं रहा, बल्कि सर्व कल्याण...

‘अग्निपथ’ योजना का हिंसक तथा अराजक विरोध निंदनीय

नई दिल्ली. भारत सरकार द्वारा अग्निपथ सैन्य भर्ती घोषणा के बाद विरोध के नाम अनेक स्थानों पर आगजनी और तोड़फोड़ की घटना हुई. बिहार में...

भारत को भारत की आंखों से देखने का समय

  नई दिल्ली. भारत प्रकाशन द्वारा दिल्ली में आयोजित पर्यावरण संवाद में स्वामी चिदानंद सरस्वती जी ने भारत की विधियों को अपनाने और बढ़ावा देने...

गुरु तेगबहादुर ने प्राण देकर की धर्म रक्षा – हनुमान सिंह

जयपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ क्षेत्र कार्यकारिणी सदस्य हनुमान सिंह ने कहा कि सिक्ख गुरु परम्परा का इतिहास विदेशी मुस्लिम आक्रमणकारियों के अत्याचारों के विरुद्ध जनता...

भारतीय चिंतन और सामाजिक समावेशन विषय पर JNU में सेमिनार

इस वर्ष डॉ. बाबा साहेब भीमराव आम्बेडकर जी की जयंती Social Studies Foundation के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण रही. 13, 14 अप्रैल को दिल्ली स्थित...

नारी स्वातंत्र्य का भारतीय प्रतिमान

अवनीश भटनागर समाज में सदियों से चली आ रही रूढ़ियों को समाप्त करने तथा सामाजिक व्यवस्था में परिवर्तन लाने के लिए दो बातें अत्यन्त आवश्यक...

अमृत महोत्सव – सशस्त्र क्रान्ति के नायक लहूजी साल्वे

भारत में यदि दासता की अंधकार अवधि संसार में सबसे अधिक रही है तो स्वाधीनता के लिये भारतीय जनों का संघर्ष और बलिदान भी सर्वाधिक...

दुनिया की सबसे बड़ी प्रयोगशाला में भगवान शिव की मूर्ति

यत्र तत्र सर्वत्र ‘शिवोऽहम’ का ही नाद आज गूंज रहा है, शिवरात्रि का पर्व है ही पावन और अनोखा. हर व्यक्ति आज के दिन शिव-पार्वती...

हर्षा की निर्मम और जघन्य हत्या से सारा हिन्दू समाज आहत है – विहिप

शिमला. विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत सह मंत्री अधिवक्ता तुषार डोगरा ने कहा कि बजरंग दल कार्यकर्ता हर्षा की निर्मम और जघन्य हत्या से सारा...