करंट टॉपिक्स

खिलाफत आंदोलन और इसके सबक

श्रीरंग गोडबोले 04 फरवरी, 1922 को चौरी-चौरा में हुए नरसंहार के बाद, गांधी ने असहयोग आंदोलन को अचानक बंद कर दिया. हालाँकि, असहयोग आंदोलन मात्र...

वे पंद्रह दिन… / 03 अगस्त, 1947

आज के दिन गांधीजी की महाराजा हरिसिंह से भेंट होना तय थी. इस सन्दर्भ का एक औपचारिक पत्र कश्मीर रियासत के दीवान, रामचंद्र काक ने...