करंट टॉपिक्स

छत्रपति शिवाजी महाराज भारतीयों के लिए सार्वकालिक आदर्श – डॉ. मोहन भागवत जी

पुणे. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि युद्धनीति की दृष्टि से, सामाजिक दृष्टि से, राजकाज की दृष्टि से अथवा...

समाज के आचरण में राष्ट्रभक्ति के निर्माण का साधन बनें स्वयंसेवक – भय्याजी जोशी

उदयपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य सुरेश ‘भय्याजी’ जोशी ने कहा कि देशभक्ति सिर्फ विचार-विमर्श और बुद्धि के विलास का विषय...

अमृत महोत्सव – सशस्त्र क्रान्ति के नायक लहूजी साल्वे

भारत में यदि दासता की अंधकार अवधि संसार में सबसे अधिक रही है तो स्वाधीनता के लिये भारतीय जनों का संघर्ष और बलिदान भी सर्वाधिक...

स्वाधीनता का अमृत महोत्सव : भ्रान्तियों के निवारण का महापर्व – 1

अवनीश भटनागर हम में से अधिकांश सौभाग्यशाली हैं कि हमारा जन्म स्वतंत्र भारत में हुआ है. जिनका जन्म 20वीं शताब्दी में हुआ है, उन्होंने परिवार...

राष्ट्रीय चेतना के स्वर का अस्त…!

प्रशांत पोळ एक सुरीला सफर थम गया. जिन स्वरों के साथ हम बचपन से प्रौढ़ावस्था तक पहुंचे, जिन सुरों ने हमेशा हमारा साथ दिया, वह...

ग्राम विकास युवा संगम उत्साहपूर्ण वातावरण में संपन्न

देवगिरी (विसंकें). राष्ट्र की उन्नति के लिए गांव की उन्नति आवश्यक है और गाँव की उन्नति के लिए युवाओं का आगे आना आवश्यक है. साथ...