करंट टॉपिक्स

राष्ट्र को समृद्धशाली व शक्तिशाली बनाना ही संघ का उद्देश्य – दत्तात्रेय होसबाले जी

Spread the love

पाली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने कहा कि “राष्ट्र को समृद्धशाली बनाना, शक्तिशाली बनाना, ही संघ का उद्देश्य है. हममें भेदभाव ना हो, स्वभिमान शून्यता ना हो, सब में आत्मसम्मान, राष्ट्रभक्ति का जागरण हो व राष्ट्र का ऋण कैसे उतरें, इस भावना के जागरण के लिए ही संघ की स्थापना हुई है. संघ के विचार इस मिट्टी की खुशबू हैं.” सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी रविवार को पाली के राजकीय बांगड़ महाविद्यालय में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा आयोजित एकत्रीकरण कार्यक्रम में स्वयंसेवकों एवं प्रबुद्धजनों को संबोधित कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि आज भगवान वाल्मीकि जयंती भी है, भगवान वाल्मीकि के कारण ही हम भगवान राम के चरित्र को जान पाए. यदि वे न होते तो भगवान राम के जीवन को हम नहीं जान पाते. रामायण के शबरी प्रकरण व महाराणा प्रताप के युद्ध में साथ लड़ने वाले लड़ाकों का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि जब इन्होंने कोई भेद न रखा तो हम भेदभाव क्यों रखें.

अमेरिका की न्यूज़ वीक पत्रिका में छपे लेख “We all are Hindus” का जिक्र करते हुए कहा कि लेखिका ने पूछे जाने पर बताया कि परिवार पद्धति, योग, आयुर्वेद यह सब विश्व को हिन्दुत्व की देन हैं, अतः हम सभी हिन्दू हैं.

3 वर्ष बाद संघ के शताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में समाज से भारत को समृद्धशाली व शक्तिशाली बनाने में अपना योगदान देने का आह्वान किया. सरकार्यवाह जी ने उद्बोधन से पूर्व भगवान वाल्मीकि के छायाचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की. जिसके पश्चात संघ स्वयंसेवकों द्वारा दंड, सामूहिक समता का शारीरिक प्रदर्शन किया गया.

कार्यक्रम में प्रान्त संघचालक हरदयाल वर्मा, विभाग संघचालक सुरेश माथुर, जिला संघचालक नेमीचंद अखावत, उत्तर पश्चिम क्षेत्र कार्यवाह जसवंत खत्री, क्षेत्र प्रचारक निम्बा राम, प्रान्त कार्यवाह खीमाराम, प्रान्त प्रचारक योगेंद्र कुमार, सहित पाली के प्रबुद्ध नागरिक, मातृशक्ति एवं स्वयंसेवक उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.