करंट टॉपिक्स

उज्जैन – माहिद ने मोहित बन नाबालिग को फंसाया, दोस्तों के साथ शारीरिक शोषण किया

Spread the love

उज्जैन. माहिद ने मोहित बनकर 15 वर्षीय नाबालिग को अपने जाल में फंसाया तथा उसका शारीरिक शोषण किया. विरोध करने पर एसिड से जलाने की धमकी देता था. उज्जैन में नाबालिग के साथ दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. नाबालिग महाराष्ट्र के मालेगांव में काम करने गई थी. यहां उत्तर प्रदेश के औरेया निवासी माहिद ने मोहित बनकर उससे दोस्ती की. माहिद उसे पुणे, दिल्ली और औरेया ले गया. इस दौरान उसने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ दुष्कर्म किया. जब नाबालिग गर्भवती हो गई तो उसे बस में बिठाकर उज्जैन उसकी बहन के पास भेज दिया. यहां नाबालिग ने एक दिव्यांग बच्चे को जन्म दिया, जिसकी मौत हो गई.

नाबालिग को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं को मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने नाबालिग से फोन लगवाकर माहिद को उज्जैन बुलवाया. उज्जैन पहुंचने पर माहिद को लोगों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया.

नाबालिग की कहानी

‘मालेगांव में माहिद मुझे मिला था. उसने मोहित बनकर मुझसे दोस्ती की और पुणे ले गया. यहां पर उसने दुष्कर्म किया. इसके बाद वह औरेया और दिल्ली ले गया. जहां उसके दो दोस्तों कमाल और खुर्शीद ने भी दुष्कर्म किया. माहिद ने उसे पुणे, मालेगांव, औरेया और दिल्ली में रखा और कई बार अपने दोस्तों के साथ मिलकर दुष्कर्म किया. विरोध करने पर माहिद एसिड से जलाने की धमकी देता था. तीनों दिल्ली में गैंग चलाते हैं. छोटे-छोटे बच्चों को भी पकड़कर मारपीट करते और हाथ-पांव काटने की धमकी देते थे.’

ऐसे खुला पूरा मामला

दरअसल, अस्पताल में पीड़ित के पास ही हिन्दू जागरण मंच के एक कार्यकर्ता की परिचित युवती भर्ती थी. नाबालिग पीड़िता ने उसे अपनी आपबीती सुनाई थी. इस तरह से पीड़िता की कहानी हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं तक पंहुची. युवती को विश्वास में लेकर माहिद को फोन कराकर उज्जैन बुलाया. यहां माहिद के पहुंचते ही हिन्दू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने देवास गेट पुलिस के हवाले कर दिया. ASI रशीद खान ने बताया कि फिलहाल मामले को जांच में लिया गया है. पूरा मामला बड़वानी और अन्य शहरों का है, इसलिए जीरो पर कायमी करवा कर बड़वानी भेजा जा रहा है.

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *