करंट टॉपिक्स

इच्छाशक्ति, संकल्प शक्ति व क्रिया शक्ति से होती है विजय सुनिश्चित – शांताक्का जी

Spread the love

भोपाल में विभिन्न देशों के विविध संगठनों की कार्यकर्ता बहनों का प्रशिक्षण वर्ग प्रारंभ

भोपाल. विश्व के विविध संगठनों की कार्यकर्ता बहनों के प्रशिक्षण वर्ग (‘द्वितीय वर्ष’) का उद्घाटन शुक्रवार को समाज सेवा न्यास, भोपाल में हुआ. उद्घाटन कार्यक्रम में अध्यक्ष के रूप में आईईएस विश्वविद्यालय की चांसलर डॉ. सुनीता सिंह तथा राष्ट्र सेविका समिति की प्रमुख संचालिका शांताक्का जी का सान्निध्य प्राप्त हुआ.

इस अवसर पर डॉ. सुनीता सिंह ने बहनों को आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रेरणादायक मार्गदर्शन दिया. मुख्य वक्ता के रूप में शांताक्का जी ने शिविरार्थी बहनों को भारतीय संस्कृति की महत्ता बताते हुए कहा कि आत्मीय अनुभूति समरसता के बाद त्याग की भावना इसमें समाहित है. उन्होंने हिन्दू धर्म के इष्ट देवता श्रीकृष्ण को इच्छाशक्ति एवं संकल्प शक्ति का स्वरूप बताया तथा अर्जुन को क्रिया शक्ति के प्रतीक के रूप में बताया. यह दोनों जब एक साथ होते हैं, तब विजय निश्चित है. उन्होंने कहा कि भारत ने विश्व को एकात्म भाव का दर्शन दिया है.

प्रशिक्षण वर्ग में विश्व विभाग की महिला कार्यपालक अधिकारी एवं राष्ट्रीय सेविका समिति की अखिल भारतीय सह कार्वाहिका अलका ताई जी इनामदार एवं अखिल भारतीय महिला समन्वय की सह संयोजिका भाग्यश्री साठे (चंदा दीदी) उपस्थित हैं.

शिविर में विविध देशों से 30 कार्यकर्ताओं की सहभागिता है. प्रशिक्षणार्थियों को हिन्दू धर्म, भारतीय संस्कृति, संगठन सेवा, वेद, उपनिषद, व्यक्ति विकास आदि विषयों की जानकारी दी जाएगी तथा उन्हें योग प्राणायाम और अन्य शारीरिक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.