करंट टॉपिक्स

देश के युवाओं व उद्यमियों को जोड़ गौशालाओं को आत्म निर्भर बनाएंगे – विनोद बंसल

Spread the love

फरीदाबाद. गौ-शालाओं के उत्तम नियोजन तथा उनके साथ देश की युवा व उद्यमियों की सक्रिय सहभागिता से उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाएगा. विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने फरीदाबाद के भूपानी में बाबा सूरदास गौशाला में सर्वमंगला कामधेनु महायज्ञ के उपरांत कहा कि अब समय आ गया है, जब हम तकनीकी में दक्ष युवाओं व उद्यमशील व्यक्तियों तथा उनके समूहों की सहायता से गौशालाओं को आत्म निर्भर बनाकर गौवंश की रक्षा व संवर्धन करें. देश की शिक्षित युवा पीढ़ी बड़ी संख्या में गौ-सेवा की ओर बढ़ रही है. गौ-काष्ठ, पंचगव्य औषधियाँ, गौमय के विविध उत्पाद, तकनीकी के माध्यम से कम खर्च में अधिकाधिक लाभ देने वाले प्रयोगों इत्यादि के माध्यम से गौ-शालाओं की आर्थिक आपूर्ति में बड़ा योगदान मिला है. किन्तु, अभी इस क्षेत्र में बहुत कुछ किया जाना शेष है.

उन्होंने कहा कि हमें प्रत्येक मंदिर व विद्यालय को गौ-ग्रास संग्रह व गौ-दान केंद्र के रूप में विकसित करना होगा, प्रत्येक मोहल्ले या वार्ड में गौ सेवा रिक्शा चलाकर प्रत्येक पंचायत या नगर पालिका को किसी ना किसी गौशाला से जोड़ना होगा. प्रत्येक हिन्दू घर से गौशाला के लिए दैनिक रोटी व निश्चित दान का मासिक प्रबंध करना होगा. प्रत्येक शमशान घाट में लकड़ियों के स्थान पर गौकाष्ठ के प्रयोग को बढ़ाना होगा, स्थानीय निकायों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों आरडब्लूए तथा व्यापार मंडलों को किसी ना किसी गौशाला से जोड़ना होगा, प्रत्येक हिन्दू परिवार को सप्ताह में, मास में अन्यथा कम से कम वर्ष में एक बार गौशाला जाकर अपनी श्रद्धा व सामर्थ्यानुसार गौ-सेवा व सत्संग हेतु प्रेरित करना होगा. गौशालाओं को भी गौ सेवा यज्ञों, गौ यात्राओं, गौ सत्संगों, गौ-भंडारों तथा गौ-कथाओं के माध्यम से स्थानीय जन-समुदाय में सेवा व संवर्धन की प्रेरणा जगानी होगी. तभी गउएं सुरक्षित रह पाएंगी. विश्व हिन्दू परिषद का गौरक्षा विभाग, बजरंगदल व दुर्गा वाहिनी की भुजाओं के बल से अपनी जान हथेली पर रखकर गौरक्षा कर ही रहा है, समाज को गौ-सेवार्थ आगे आना होगा.

इस अवसर गौशाला के अध्यक्ष रामकुमार गुप्ता व संरक्षक प्रमोद त्यागी के नेतृत्व में स्थानीय पंचायत समितियों व जिला परिषद के नव-निर्वाचित प्रतिनिधियों का अभिनंदन भी किया गया. जिन्होंने गौशाला को अनवरत चारे की आपूर्ति तथा अन्य हर संभव सेवा का आश्वासन भी दिया. आर्य समाज से दर्शनाचार्य विमलेश आर्या ने कहा कि आओ हम सभी उपयोगी, सहयोगी, उद्योगी, निरोगी और योगी बन, गोपाल श्री कृष्ण का अनुसरण करें. हरियाणा गौ-सेवा आयोग के सदस्य हकीम आश मोहम्मद ने कहा कि गौशाला की हम हरसंभव मदद करेंगे ही, साथ ही मेवात से गौकशी को 80 प्रतिशत रोका जा चुका है. कुछ महीनों में हम उसे पूरी तरह रोकने में कामयाब हो जाएंगे.

कार्यक्रम के मुख्य अथिति समीर गुप्ता ने गौशाला में आगामी वर्षा ऋतु से पूर्व भूषा-भण्डारण व्यवस्था को ठीक करने का आश्वासन दिया.

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रुप में भारतीय प्रशासनिक सेवा की पूर्व अधिकारी डॉ. मुक़लिता विजयवर्गीय, हरियाणा योग आयोग के सदस्य जयपाल शास्त्री, उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.