करंट टॉपिक्स

विश्व चैंपियनशिप – रुद्राक्ष पाटिल ने 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में जीता स्वर्ण पदक

Spread the love

नई दिल्ली. भारत के निशानेबाज रुद्राक्ष पाटिल ने शुक्रवार को काहिरा में विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता. वह 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में चैंपियन बने. रुद्राक्ष अभिनव बिंद्रा के बाद ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय निशानेबाज हैं.

रुद्राक्ष पाटिल ने जीत के साथ ही पेरिस ओलंपिक का टिकट पक्का कर लिया है. यह भारत का दूसरा ओलंपिक कोटा है. 18 वर्षीय रुद्राक्ष ने इटली के डानिलो डेनिस सोलाजो को 17-13 से हराया. एक समय वह फाइनल में पीछे चल रहे थे. फिर जबरदस्त वापसी की और जीत हासिल की.

वर्ष वर्ल्ड चैंपियनशिप से ओलंपिक के लिए 4 कोटा उपलब्ध हैं. भारत ने बीते दिनों क्रोएशिया में शॉटगन विश्व चैंपियनशिप में पुरुष ट्रैप स्पर्धा में भौनीश मेंदीरत्ता के जरिए पहला कोटा हासिल किया.

रुद्राक्ष पाटिल ने पहली बार विश्व चैंपियनशिप में भाग लिया है. वह मुकाबले में एक समय 4-10 से पीछे थे. इटली के निशानेबाज ने बढ़त बनाए रखी, लेकिन रुद्राक्ष ने अंत में वापसी की और मेडल अपने नाम किया.

बीजिंग ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा ने 2006 में क्रोएशिया में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण जीता था.

रुद्राक्ष ने क्वालिफिकेशन में शीर्ष स्थान हासिल किया था और रैंकिंग राउंड में दूसरा स्थान हासिल करने के बाद ओलंपिक कोटा पक्का कर लिया था. बीजिंग ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा ने 2006 में क्रोएशिया के जाग्रेब में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में विश्व चैम्पियनशिप का स्वर्ण जीता था.

फ़ाइनल में, एक सीरीज़ जीतने वाले निशानेबाज़ को दो अंक प्रदान किए जाते हैं और पहले 16 अंक हासिल करने वाला निशानेबाज़ स्वर्ण पदक अपने नाम करता है.

मुक़ाबले में डैनिलो सोलाज़ो ने शुरुआत में सातवीं सीरीज़ के बाद 10-4 और नौवीं के बाद 11-7 से बढ़त बनाई, लेकिन भारतीय निशानेबाज़ ने वापसी करते हुए अगली सीरीज़ को 11-9 से अपने पक्ष में कर लिया.

इसके बाद पाटिल ने पीछे पलटकर नहीं देखा और अंत में मुक़ाबले को अपने नाम कर लिया. रुद्राक्ष पाटिल ने इससे पहले क्वालिफ़िकेशन राउंड में 633.9 के स्कोर के साथ टॉप किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.