करंट टॉपिक्स

आप युवाओं के दिमाग को दूषित कर रही हैं – सर्वोच्च न्यायालय

Spread the love

नई दिल्ली. एकता कपूर को उनकी वेब सीरीज में आपत्तिजनक सीन्स दर्शाने को लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने कड़ी फटकार लगाई है और साथ ही फिल्ममेकर को चेतावनी दी कि अगर अब कोई और दलील उनके पास आती है , तो उनसे एक लागत वसूल की जाएगी.

एकता कपूर ने उनके खिलाफ जारी अरेस्ट वारंट को चैलेंज करते हुए सर्वोच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की थी.

न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी और न्यायमूर्ति सीटी रविकुमार की पीठ ने कहा कि ‘आप इस देश के युवाओं के दिमाग को दूषित कर रही हैं. यह ओटीटी के हर प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है. आप लोगों को किस तरह की चॉइस दे रही हैं?’

निर्माता को फटकार लगाते हुए कहा, ‘आप जिस तरह से हर बार इस कोर्ट में आती हैं, हम उसकी सराहना नहीं करते. हम इस तरह की याचिका दायर करने के लिए आपसे एक लागत लेंगे, मिस्टर रोहतगी ये बात आप अपने क्लाइंट तक पहुंचा दें’.

2020 में पूर्व सैनिक शंभू कुमार की शिकायत के बाद बेगूसराय की ट्रायल कोर्ट ने एकता कपूर और उनकी मां शोभा कपूर के खिलाफ वारंट जारी किया था. उनका कहना था कि एकता कपूर ने ऑल्ट बालाजी की XXX वेब सीरीज़ के दूसरे सीजन में एक सैनिक की पत्नी के साथ आपत्तिजनक दृश्य दिखाए गए थे.

इतना ही नहीं पूर्व सैनिक ने अपनी याचिका में फिल्म मेकर पर आरोप लगाया था कि उन्होंने इस सीरीज के कंटेंट के जरिए कथित रूप से सैनिकों और उनके परिवार की भावनाओं को आहत किया है. इसी मामले में एकता कपूर द्वारा याचिका पर न्यायालय सुनवाई कर रहा था.

सर्वोच्च न्यायालय ने कहा कि, ‘क्योंकि आप एक अच्छा वकील हायर कर सकती हैं, इसलिए आपसे ये लागत ली जाएगी. ये कोर्ट उनके लिए नहीं है, जिनकी अपनी आवाज है, बल्कि उनके लिए है जो अपने लिए आवाज नहीं उठा पाते. जिन लोगों के पास सभी व्यवस्थाएं हैं और उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है, तो जरा उनकी स्थिति के बारे में सोचिए, जिनके पास कुछ भी नहीं है. हमने ऑर्डर देख लिया है और हमारी अपनी आपत्ति है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published.