करंट टॉपिक्स

शहनाज ने सुमन और इरम जैदी ने स्वाति बन हिन्दू लड़कों से किया विवाह

Spread the love

बरेली में मुस्लिम समुदाय की दो लड़कियों ने सनातन धर्म अपनाकर हिन्दू लड़कों से विवाह कर लिया. सनातन धर्म में घर वापसी के बाद बहेड़ी की इरम जैदी स्वाति बन गई तो भोजीपुरा निवासी शहनाज सुमन बन गई. दोनों लड़कियों का कहना है कि मुस्लिम समाज में महिलाओं को सम्मान नहीं मिलता. वहां जब चाहते हैं, तीन बार तलाक बोल देते हैं और फिर हलाला करते हैं. दोनों लड़कियों की हिन्दू धर्म में आस्था है. दोनों लड़कियों ने स्वेच्छा से हिन्दू लड़कों से विधि विधान के साथ विवाह किया.

मामला बरेली के सुभाषनगर थाना क्षेत्र के मढ़ीनाथ का है.  भोजीपुरा निवासी शहनाज अब नए नाम से पहचानी जाएगी, अब उसका नाम सुमन देवी है. शहनाज को अजय नाम के लड़के से मोहब्बत हो गई, जिसके बाद उसने सनातन धर्म अपनाकर अजय से विवाह कर लिया. इरम जैदी ने आदेश कुमार से शादी की. बरेली के मढ़ीनाथ स्थित अगस्त मुनि आश्रम में पंडित केके शंखधार ने दोनों लड़कियों का विवाह संपन्न कराया.

इस दौरान दोनों जोड़ों ने सात फेरे लिए, लड़कों ने मांग में सिंदूर भरा, मंगलसूत्र पहनाया, दोनों जोड़ों ने पंडित जी के पैर छूकर आशीर्वाद लिया.

भोजीपुरा निवासी शहनाज उर्फ सुमन देवी का कहना है कि उसकी हिन्दू धर्म में आस्था है, जिस वजह से उसने अपनी मर्जी से सनातन धर्म अपनाया है. उनका कहना है कि अपनी मनपसंद के लड़के से शादी की है. वह अब पूरी जिंदगी उसी के साथ काटना चाहती है. बहेड़ी की इरम जैदी का कहना है कि वह भी सनातन धर्म में ही विश्वास करती है. यही वजह है कि उसने हिन्दू लड़के से विवाह किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.