करंट टॉपिक्स

राजस्थान में आठ स्थानों पर संघ शिक्षा वर्ग प्रारंभ

Spread the love

जयपुर. देशभर के 108 स्थानों पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संघ शिक्षा वर्ग प्रारंभ हो रहे हैं. इन वर्गों में विभिन्न आयु वर्ग के संघ के स्वयंसेवक 20 दिनों तक प्रशिक्षण लेंगे. इसी कड़ी में उत्तर- पश्चिम क्षेत्र (राजस्थान) में चार स्थानों पर संघ शिक्षा वर्ग प्रारंभ हुए हैं. बीकानेर में द्वितीय वर्ष (सामान्य), झुंझुनूं में प्रथम वर्ष (सामान्य) तरुण व्यवसायी व महाविद्यालय विद्यार्थियों के लिए और जयपुर के जामाड़ोली में प्रथम वर्ष (विशेष) व अन्य पर शुरू हुआ है. इसी प्रकार विद्यालयीन विद्यार्थियों के लिए अलवर में प्रथम वर्ष संघ शिक्षा वर्ग शुरू हुआ है.

बीकानेर संघ शिक्षा वर्ग के उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि संत वसुंधरा नंद महाराज सेवानंद आश्रम बीकानेर, क्षेत्र प्रचारक निंबाराम और वर्ग सर्वाधिकारी टेकचंद उपस्थित रहे.

क्षेत्र प्रचारक निंबाराम ने शिक्षार्थियों से कहा कि संघ शिक्षा वर्ग में हम अपने आपको तैयार करने के लिए आए हैं. उन्होंने शिक्षार्थियों को एक श्रेष्ठ कार्यकर्ता बनकर अधिक समय लगाकर कार्य करने व सेवा भाव का जागरण करते हुए संघ शताब्दी वर्ष में समय देने के लिए प्रेरित किया. अनुशासन ही हमारी पहचान है, इसको ध्यान में रखते हुए हम गति बढ़ाएं.

वसुंधरा नंद महाराज ने कहा कि विद्यार्थियों पर नजर रखते हुए और तेज गति से कार्य करने की आवश्यकता है.

संघ शिक्षा वर्गों में शिक्षार्थियों को बौद्धिक एवं शारीरिक कार्यक्रमों के योग्य संचालन के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है. स्वयंसेवकों में क्षमता विकास, संघ कार्यों के प्रति अपनत्व, भारतीय विचार की स्पष्टता और संघ कार्य में आने वाली जिज्ञासाओं के समाधान में संघ शिक्षा वर्गों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. भीषण गर्मी में घर की सुख-सुविधाओं से दूर कठिन प्रशिक्षण प्राप्त करना एक प्रकार की साधना है. संघ शिक्षा वर्ग सही मायनों में अनुशासन की पाठशाला है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.