You Are Here: Home » Posts tagged "विश्व हिन्दू परिषद" (Page 2)

यमुना पुस्ता व खादर में बनी अवैध कॉलोनी क्यों नजर नहीं आती – डॉ. सुरेन्द्र जैन

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेंद्र जैन ने आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा दिल्ली में आयोजित किए जाने वाले विश्व सांस्कृतिक महोत्सव पर  नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) द्वारा थोपे गए जुर्माने को जजिया कर की संज्ञा दी. उन्होंने जारी प्रैस वक्तव्य में कहा कि पर्यावरण संरक्षण के विषय में हिन्दू समाज (विशेषकर श्रीश्री रवि शंकर जैसे महापुरुषों या उनकी किसी संस्था) पर बिना किसी जु ...

Read more

“वृद्ध – मित्र” सेवा का आरंभ! हिन्दू हेल्पलाइन के पांच वर्ष पूर्ण होने पर विशेष सेवा

नई दिल्ली. 24 घंटे आपातकालीन सेवा के लिये कार्यरत हिन्दू हेल्पलाइन ने अपने पांच वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर ज्येष्ठ (वृद्ध) नागरिकों के लिये विशेष सेवा आरंभ की है. इसकी घोषणा सार्वजनिक समारोह में करते हुये हिन्दू हेल्पलाइन के संस्थापक विहिप के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया जी ने कहा कि येक कॉल पर 24 घंटे आपातकालीन सेवा देने हेतु आरंभ हुई हिन्दू हेल्पलाइन ने पांच वर्ष पूर्ण किये हैं. दू ...

Read more

जी.राघव रेड्डी विश्व हिंदू परिषद के नये अध्यक्ष

हैदराबाद. विश्व हिन्दू परिषद की प्रन्यासी मण्डल और प्रबंध समिति की दो दिवसीय संयुक्त बैठक 28 दिसम्बर 2014 को भाग्यनगर (हैदराबाद) में प्रारम्भ हुई. बैठक का आयोजन जीनारायणम्मा इंस्टीच्यूटआफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, शेखपेठ, गाचीबावली रोड, हैदराबाद (तेलंगाना) में किया गया. बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री सुरेश (भय्या जी) जोशी, विश्व हिन्दू परिषद के कार्याध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया, अध्यक्ष जीरा ...

Read more

24 दिसम्बर/जन्म-दिवस : कर्तव्यनिष्ठ व सेवाभावी श्रीकृष्णचंद्र भारद्वाज

संघ के प्रचारक का अपने घर से मोह प्रायः छूट जाता है; पर 24 दिसम्बर, 1920 को पंजाब में जन्मे श्रीकृष्णचंद्र भारद्वाज के एक बड़े भाई नेत्रहीन थे. जब वे वृद्धावस्था में बिल्कुल अशक्त हो गये, तो श्रीकृष्णचंद्र जी ने अंतिम समय तक एक पुत्र की तरह लगन से उनकी सेवा की. इस प्रकार उन्होंने संघ और परिवार दोनों के कर्तव्य का समुचित निर्वहन किया. श्री कृष्णचंद्र जी अपनी शिक्षा पूर्ण कर 1942 में प्रचारक बने. प्रारम्भ में ...

Read more

6 दिसम्बर/इतिहास-स्मृति; राष्ट्रीय कलंक का परिमार्जन

भारत में विधर्मी आक्रमणकारियों ने बड़ी संख्या में हिन्दू मन्दिरों का विध्वंस किया. स्वतन्त्रता के बाद सरकार ने मुस्लिम वोटों के लालच में ऐसी मस्जिदों, मजारों आदि को बना रहने दिया. इनमें से श्रीराम जन्मभूमि मन्दिर (अयोध्या), श्रीकृष्ण जन्मभूमि (मथुरा) और काशी विश्वनाथ मन्दिर के सीने पर बनी मस्जिदें सदा से हिन्दुओं को उद्वेलित करती रही हैं. इनमें से श्रीराम मन्दिर के लिये विश्व हिन्दू परिषद् ने देशव्यापी आन्द ...

Read more

6 दिसंबर को शौर्य दिवस मनाने की तैयारियां पूर्ण

फैज़ाबाद. विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल ने कल शनिवार, 6 दिसंबर को शौर्य दिवस मनाने की तैयारियां पूरी कर ली हैं. परिषद के प्रवक्ता श्री शरद शर्मा ने यहां अपने मुख्यालय कारसेवकपुरम में यह घोषणा की. दूसरी ओर, तमाम मुस्लिम संगठनों ने इसे यौमेगम दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है.  जिला प्रशासन श्री राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद मामले के सबसे पुराने वादी श्री हाशिम अंसारी के ताजे बयान के बाद ज्यादा सतर्क हो गया ...

Read more

28 जुलाई / जन्म-दिवस; विश्व हिन्दू परिषद और केशवराम शास्त्री

गुजरात में 'विश्व हिन्दू परिषद' के पर्याय बने श्री केशवराम शास्त्री का जन्म 28 जुलाई, 1905 को हुआ था. उनके पिता का नाम श्री काशीराम था. धार्मिक परिवार में जन्म लेने के कारण शास्त्री जी को बालपन से ही हिन्दू धर्म ग्रन्थों के अध्ययन में विशेष आनन्द मिलता था. वे अद्भुत मेधा के धनी थे. उन्होंने सैकड़ों ग्रन्थों की रचना की. संयमित जीवन, सन्तुलित भोजन और नियमित दिनचर्या के बल पर वे 102 वर्ष तक सक्रिय रह सके. 1964 ...

Read more

आचार्य गिरिराज किशोर: श्रीराम के कार्य को समर्पित व्यक्तित्व

विश्व हिन्दू परिषद के मार्गदर्शक आचार्य गिरिराज किशोर का जीवन बहुआयामी था. उनका जन्म 4 फरवरी, 1920 को एटा, उ.प्र. के मिसौली गांव में श्री श्यामलाल एवं श्रीमती अयोध्यादेवी के घर में मंझले पुत्र के रूप में हुआ. हाथरस और अलीगढ़ के बाद उन्होंने आगरा से इंटर की परीक्षा उत्तीर्ण की. आगरा में श्री दीनदयाल जी और श्री भव जुगादे के माध्यम से वे स्वयंसेवक बने और फिर उन्होंने संघ के लिये ही जीवन समर्पित कर दिया. प्रचार ...

Read more

दुर्गा वाहिनी ने सिखाये आत्म रक्षा के गुण

नई दिल्ली, 4 जून. महिलाओं की स्थिति किसी भी देश की प्रगति का सूचकांक होती हैं. जहां की बालिकायें व महिलायें सुशिक्षित, संस्कारित, सुरक्षित व शक्तिशाली होती हैं, वही समाज व देश संसार में प्रगति का वाहक बनता है.  दुर्गा वाहिनी दिल्ली के प्रशिक्षण शिविर के समापन कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मंत्री डा सुरेन्द्र जैन ने कहा कि यदि भारत को शक्तिशाली बनाना है तो बाल ...

Read more

सेवा ही परम धर्म है

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद की प्रेरणा से भगिनी निवेदिता सेवा न्यास द्वारा पश्चिमी दिल्ली में एक और सेवा केंद्र का शुभारम्भ किया गया. द्वारिका की सेवा बस्ती (झुग्गियों) में नि:शुल्क सिलाई प्रशिक्षण केंद्र का उदघाटन करते हुये विहिप के प्रांत उपाध्यक्ष व भगिनी निवेदिता सेवा न्यास के महामंत्री श्री महावीर प्रसाद ने कहा अभावग्रस्त बंधुओं-भगिनियों को प्रशिक्षित कर अपने पैरों पर खडा करना तथा उनकी जीवनोपयोगी आवश ...

Read more
Scroll to top