करंट टॉपिक्स

एक संघ स्थान, 82 शाखाएं और 2166 स्वयंसेवकों का संगम

Spread the love

जयपुर (विसंकें). एक मैदान, 82 शाखाएं और 2 हजार 166 स्वयंसेवक. अद्भुत दृश्य देखने को मिला सांगानेर स्थित पिंजरापोल गोशाला परिसर में. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सांगानेर महानगर के शाखा संगम कार्यक्रम में स्वयंसेवक जुटे थे.

सांगानेर महानगर संघचालक सत्यनारायण साहू ने बताया कि महानगर की सभी शाखाओं का संगम पिंजरापोल गोशाला परिसर में हुआ. जिसमें 51 विद्यार्थी शाखाओं के 1 हजार 364 बाल तथा विद्यार्थी स्वयंसेवक उपस्थित रहे. विद्यार्थी शाखाओं के स्वयंसेवकों को निःयुध्द का विशेष प्रशिक्षण दिया गया.

पिंजरापोल गोशाला में ही व्यवसायी शाखाओं का संगम हुआ, जिसमें 31 शाखाओं के 802 स्वयंसेवक उपस्थित रहे.

संगम की खास बात यह रही कि एक ही जगह पर सभी शाखाओं के लिए अलग-अलग संघ स्थान बनाए गए थे तथा सभी शाखाओं ने अपने अलग-अलग ही ध्वज लगाकर शाखा लगाई.

सांगानेर महानगर कार्यवाह उत्तम कुमार ने बताया कि सांगानेर महानगर बनने के बाद यह पहला बड़ा कार्यक्रम था.

शाखा संगम में संघ के अखिल भारतीय सेवा प्रमुख पराग अभ्यंकर जी का मार्गदर्शन प्राप्त हुआ. संगम में सर्वाधिक संख्या लाने वाली गोविन्द नगर की विवेकानंद विद्यार्थी शाखा की 97 व विश्वकर्मा विद्यार्थी शाखा की 88 संख्या रही. प्रभात में हनुमान व माधव व्यवसायी शाखाएं क्रमशः 131 संख्या के साथ प्रथम तथा 95 संख्या के साथ शिवाजी शाखा दूसरे स्थान पर रही.

सर्वाधिक संख्या लाने वाली शाखाओं को अखिल भारतीय सेवा प्रमुख व सह क्षेत्र प्रचारक निम्बाराम जी ने रेशमी ध्वज तथा पीतल का पोल पुरस्कार स्वरुप प्रदान किया.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *